भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

सेंत

बहुत अधिक, ढेर का ढेर।
Grametical Category: वि.

सेंतना, सेंतनो

इकट्ठा या संचित करना।
Grametical Category: क्रि.स.
Etemology: (हिं. सैंतना)

सेंतना, सेंतनो

समेटना।
Grametical Category: क्रि.स.
Etemology: (हिं. सैंतना)

सेंतना, सेंतनो

सहेजना।
Grametical Category: क्रि.स.
Etemology: (हिं. सैंतना)

सेंतमेंत

बिना दाम दिये, मुफ्त में।
Grametical Category: क्रि. वि.
Etemology: [हिं. सेंत + मेंत (अनु.)]
Description with Example: उ.- कलुषी अरू मन मलिन बहुत मैं सेंतमेंत न बिकाऊँ-१-१२८।
Proveb\Idiom: मुहा. सेंतमेंत का – मुफत का। सेंतमेंत में- (१) मुफ्त में। (२) व्यर्थ।

सेंतमेंत

बेमतलब, वृथा, निष्प्रयोजन।
Grametical Category: क्रि. वि.
Etemology: [हिं. सेंत + मेंत (अनु.)]

सेंति, सेंती

कुछ खर्च या व्यय का न होना।
Grametical Category: संज्ञा
Gender: स्त्री.
Etemology: (हिं. सेंत)
Proveb\Idiom: मुहा. सेंति के- बहुत से। उ.- सखा संग लीन्हें जु सेंति के फिरत रैनि दिन बन में धाए-१०९३। सेंति या में – बिना मूल्य के, मुफ्त में। उ.- प्रानन के बदले न पाइयत सेंति बिकाय सुजस की ढेरी-२८५२।

सेंति, सेंती

पुरानी हिन्दी की करण और अपदान की विभक्ति, से।
Grametical Category: प्रत्य.
Etemology: [प्रा. सुंतो (पंचमी विभक्ति)]
Description with Example: उ.- (क) ता रानी सेंती सुत ह्यैहै-६-५। (ख) तप कीन्हैं सो दैहैं आग। ता सेंती तुम कीनौ जाग-९-२। (ग) बहुरि सक्र सेंती कहथौ जाइ-९-१७४।

सेंथी

भाला, बरछी।
Grametical Category: संज्ञा
Gender: स्त्री.
Etemology: (सं. शक्ति)
Description with Example: उ.- इंद-जीत लीनी जब सेंथी (पाठा. – सक्ती) देवनि हहा करथौ। छूटी बिज्जु-रासि वह मानौ, भूतल बंधु परथौ-९-१४४।

सेंद

चोरी करने के लिए दीवर में किया गया छेद जिसमें से होकर चोर घर में जा सके और सामान बाहर निकाल सके।
Grametical Category: संज्ञा
Gender: स्त्री.
Etemology: (हिं. सेंध)

सेंदुर

ईँगुर की बुकनी, सिंदूर जो सौभाग्यवती स्त्रियाँ माँग में भरती हैं और जो उनके सौभाग्य का चिह्न माना जाता है।
Grametical Category: संज्ञा
Gender: पुं.
Etemology: (हिं. सेंदूर)
Description with Example: उ.- (क) मुख मंडित रोरी रंग, सेंदुर माँग छही-१०-२४। (ख) आल मजीठ लाख सेंदुर कहुँ ऐसेहि बुधि अवरेखत-११०८। (ग) कहुँ जावक कहुँ बने तमोर रँग कहुँ अँग सेंदुर दाग्यौ-१९७२।
Proveb\Idiom: मुहा. सेंदुर चढ़ना- स्त्री का विवाह होना (विवाह में वर जब कन्या की माँग में सेंदुर भरता है तभी से वह उसकी पत्नी बन जाती है)। सेंदुर देना- विवाह के समय वर का कन्या की माँग भर कर उसको पत्नी बनाना।

सेंदुरानी

सिंदूर रखने की डिबिया, सिंदूरा
Grametical Category: संज्ञा
Gender: स्त्री.
Etemology: (हिं. सेंदुर + फ़ा. दानी)

सेंदुरा

सेंदुर-जैसे लाँल रंग का।
Grametical Category: वि.
Etemology: (हिं. सेंदुर)

सेंदुरा

सेंदुर रखने की डिबिया।
Grametical Category: संज्ञा
Gender: पुं.

सेंदुरिया

सेंदुर-जैसे लाल रंग का।
Grametical Category: वि.
Etemology: (हिं. सेंदुर)

सेंदुरि, सेंदुरी

सेंदुर-जैसे लाँल रंग की गाय।
Grametical Category: संज्ञा
Gender: स्त्री.
Etemology: (हिं. सेंदुर)
Description with Example: उ,- कजरी धौरी सेंदुरी धूमरि मेरी गैया-६६६।

सेंदुरि, सेंदुरी

सेंदुर जैसे लाल रंग की।
Grametical Category: वि.
Gender: स्त्री.
Etemology: (हिं. सेंदुर)

सेंद्रिय

जिसमें इंद्रियाँ हों, सजीव।
Grametical Category: वि.
Etemology: (सं.)

सेंद्रिय

जो पुरूषत्वयुक्त हो।
Grametical Category: वि.
Etemology: (सं.)

सेंध

चोरी करने के लिए दीवार में किया गया ऐसा छेद जिससे होकर चोर घर के भीतर जा सके और माल बाहर लाया जा सके।
Grametical Category: संज्ञा
Gender: स्त्री.
Etemology: (सं. सेधि)

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App