भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Zoology (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

शब्दकोश के परिचयात्मक पृष्ठों को देखने के लिए कृपया यहाँ क्लिक करें
Please click here to view the introductory pages of the dictionary

Amphidelphic

उभय-अंडाशयी
दो अंडाशयों वाली ऐसी मादा जिसमें एक अंडाशय आगे की ओर तथा दूसरा पीछे की ओर स्थित होता है।

Amphidiploid

उभद्विगुणित
ऐसा संकर जीव जिसमें दोनों जनकों के जीनोम द्विगुणित अवस्था में पाये जाते हैं।

Amphidromous

उभयगामी
प्रजनन-काल को छोड़कर जीवन-चक्र की किसी भी अवस्था में अलवण जल से खारे जल में जाने वाला (प्राणी)।

Amphikaryon

उभयकेंद्रक, ऐम्फीकेरियॉन
ऐसा कंद्रक जिसमें दो अणुसूत्रों का समूह होता है।

Amphimixis

उभयमिश्रण, ऐम्फ़िमिक्सिस
निषेचन की क्रिया में नर और मादा प्राक्केंद्रकों के मिलने से एक ही व्यष्टि में विभिन्न मातृ और पितृ लक्षणों का सम्मिलन।

Amphineura

ऐम्फिन्यूरा
द्विपार्श्व सममिति वाले समुद्री मोलस्कों का एक वर्ग जिसमें काइटन और उससे संबंधित प्राणी आते हैं। इनमें कवच और पाद या तो नहीं होते या फिर आठ कपाट वाला कवच और चौड़ा व चपटा पाद होता है।

Amphioxus

ऐम्फिऑक्सस
ब्रैंक्योस्टोमा वंश का छोटा पारदर्शी समुद्री प्राणि जिसके दोनों सिरे नुकीले होते हैं और अग्र सिरे पर नीचे की और कुरलों (सिराई) से घिरा मुखरंध्र होता है। पृष्ठ तथा गुद पख का होना किंतु पादों का अभाव, पृष्ठरज्जु और पृष्ठ तल पर तंत्रिकारज्जु का होना किंतु पूर्ण मस्तिष्क का अभाव, रुधिर-वाहिका तंत्र का होना पर हृदय का अभाव,नेत्र के स्थान पर मध्य वर्णक बिन्दु का होना, श्रवण अंग का अभाव और केवल घ्राण अंग का होना, इसके प्रमुख लक्षण हैं। इसको प्राय: रज्जुकी कार्डेटों का सरलतम रुप समझा जाता है।

Amphiplatyan

ऐम्फिप्लेटियन
कशेरुक का एक प्रकार जिसमें सेंट्रम दोनों तरफ चपटा होता है। उदा. स्तनियों के कशेरुक।

Amphipneustic

उभयरंध्री
ऐसा अल्परंध्री लारवा जिसमें केवल अग्रवक्षीय और पश्च-उदरीय श्वसन-रंध्र होते हैं।

Amphistylic

उभयनिलंबित, ऐम्फिस्टाइलिक
ऊपरी जबड़े के आंशिक रुप से करोटि से मुक्त होने तथा कंठिका चिबुक उपास्थि से निलंबित होने (जैसे कुछ आद्य शार्कों में) की स्थिति।

Amphistyly

उभयलंबता, ऐम्फिस्टाइली
जबड़ों के निलंबन का एक प्रकार जिसमें ऊपरी जबड़ा आगे से तो कपाल के खाँचे में फिट बैठता है किंतु पीछे से कंठिका-चिबुक उपास्थि द्वारा निलंबित रहता है। कुछ आद्य शार्कों में यह स्थिति पाई जाति है।

Amphitoky

उभनिषेकजनन
अनिषेकजनन से नर और मादा दोनों ही संततियों का उत्पन्न होना।

Amplification

प्रवर्धन
(दे.gene amplification)

Ampulla

ऐम्पुला, तुंबिका
किसी वाहिनी का फूला हुआ थैली-जैसा भाग; जैसे स्तनियों के कान की अर्धवृत्ताकार नलिकाएँ या शूलचर्मी (एकाइनोडर्म) नालपदों की संरचनाएँ।

Ampullaceous

तुंबिकासम
(संवेदिका के संबंध में) फ्लास्क के आकार की।

Ampulliform

तुंबिकारुपी
फ्लास्करुपी संरचना।

Amylase

ऐमिलेज
मंड को माल्टोस में बदलने वाला एंजाइम। यह एंजाइम लार, अग्न्याशयिक रस इत्यादि विविध प्राणिस्रावों व ऊतकों तथा अंकुरित होते हुए बीजों, पत्तियों और पौधों के अन्य भागों में पाया जाता है।

Anabiosis

प्रसुप्तजीवन
शुष्कन के परिणामस्वरुप निलंबित सजीवन की एक अवस्था जो जल से संपर्क होने पर समाप्त हो जाती है।

Anabolism

उपचय
जीवों में रासायनिक परिवर्तनों की रचनात्मक प्रक्रिया जिसमें सरलतर पदार्थों से जटिलतर पदार्थों के निर्माण के साथ-साथ ऊर्जा जमा होती है। इसी प्रक्रिया से शरीर में वृद्धि संभव होती है।

Anacanthini

ऐनाकेन्थिनी
निओप्टेरिजाई मछलियों का एक गण जिसमें कॉड, हेक, हैडक, आदि टिलिओस्ट मछलियाँ आती हैं। मध्य पख तथा श्रोणि पख की सभी अरों का मुलायम तथा संधियुक्त होना, श्रोणि पख का काफी आगे वक्ष श्रेत्र में होना, और बिना वाहिनी वाला वायु-आशय इनके विशिष्ट लक्षण हैं।

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App